हमें अपने भारतीय भाषाओं के लिए एक ‘भाषा विश्वविद्यालय’ स्थापित करना होगा: योगी आदित्यनाथ

0

आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारतीय भाषाओं के लिए एक ‘भाषा विश्वविद्यालय’ की स्थापना की।

Yogi Adityanath
Yogi Adityanath

“हमें अपनी भारतीय भाषाओं के लिए एक ‘भाषा विश्वविद्यालय’ स्थापित करना होगा। हिंदी और अंग्रेजी के संस्कृत और व्यावहारिक ज्ञान की मदद से हम कई लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा कर सकते हैं।

लखनऊ विश्वविद्यालय में शनिवार को ‘भाषा महोत्सव -2020’ के उद्घाटन समारोह में आदित्यनाथ ने कहा कि दुनिया भर में शिक्षकों की जरूरत तभी पूरी हो सकती है, जब विश्वविद्यालय भाषा सिखाना शुरू करेंगे।

उन्होंने कहा, “हिंदी भाषा रोजगार का एक बड़ा माध्यम बन गई है। भारतीयों ने दुनिया को साहित्य का पाठ पढ़ाया है। दुनिया की सबसे पुरानी धार्मिक पुस्तक ‘ऋग्वेद’ भी भारत द्वारा दी गई है।”

उन्होंने कहा कि सरकार वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर के सौंदर्यीकरण के लिए कार्य योजना के अनुसार काम कर रही है।

उन्होंने कहा, “सरकार ने काशी विश्वनाथ मंदिर के सौंदर्यीकरण का काम शुरू कर दिया है। कार्य योजना में, 300 घर खरीदे गए, जिनमें से 67 मंदिर हैं और अब ये राज्य सरकार द्वारा संरक्षित हैं।”

Facebook Comment